Sponsored Links

भारत का सबसे लम्बा राष्ट्रीय राजमार्ग कौन सा है

राष्ट्रीय राजमार्ग सख्या: 44 (नेशनल हाईवे: 44) जो कि NH-44 के नाम से प्रचलित है को भारत का सबसे लम्बा राजमार्ग होने का गौरव प्राप्त है। यह भारत के उत्तरी किनारे पर स्थित श्रीनगर को भारत के दक्षिण के आखिर में स्थित कन्याकुमारी से जोड़ता है। इसकी कुल लम्बाई 3745 किलो मीटर है।

इससे पूर्व NH-7 को भारत का सबसे लम्बा राष्ट्रीय राजमार्ग होने का दर्जा प्राप्त था परन्तु अब NH-7 राष्ट्रीय राजमार्गों के उस समूह का हिस्सा है जिन्हें सयुंक्त रूप से NH-44 कहा जाता है। NH-44 का अलग से निर्माण नही किया गया है बल्कि श्रीनगर से कन्याकुमारी जाने वाले विभिन्न राजमार्गों को मिलाकर उन्हें एक सयुंक्त नाम दिया गया है जिसे अब NH-44 कहा जाता है।

इन राजमार्गों में श्रीनगर का NH-1A, पंजाब-हरियाणा-दिल्ली का NH-1, दिल्ली से आगरा जाने वाले NH-2 तथा आगरा से आगे कन्याकुमारी जाने वाले अन्य राजमार्ग (जिनमें NH-7 भी शामिल है) सयुंक्त रूप से सम्मिलित हैं। इसी कारण NH-7 तथा NH-44 में भ्रमित ना होकर NH-44 को ही भारत का एक मात्र सबसे लम्बा राजमार्ग पढा जाए।

NH-44 भारत की राजधानी दिल्ली के अतिरिक्त 10 अन्य राज्यों से गुजरता है जो जम्मू-कश्मीर से शुरु होकर पंजाब-हरियाणा से होते हुए दिल्ली-उत्तरप्रदेश-मध्यप्रदेश को पार कर महाराष्ट्र तक पहुँचता है। तथा उसके बाद तेलंगाना-आंध्रप्रदेश व कर्नाटक को पार करके तमिलनाडु राज्य में स्थित कन्याकुमारी पहुँच कर समाप्त होता है। जो कि भारत के भूमिगत क्षेत्र का अंतिम छोर है।

Sponsored Links

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें