Sponsored Links

गूगल का अविष्कार किसने किया

गूगल का अविष्कार लैरी पेज और सर्गेई ब्रिन द्वारा किया गया था तथा आज गूगल को दुनिया के सबसे बड़े सर्च इंजन अर्थात ऑनलाइन जानकारी खोजने वाली वेबसाइट के तौर पर जाना है। दो दशक से भी अधिक अनुभव वाले गूगल की स्थापना 4 सितंबर 1998 को की गई थी इसका उद्देश्य इंटरनेट पर उपलब्ध जानकारी को सरलता से खोजना व क्रम में लगाना है। इसके अतिरिक्त गूगल ऑनलाइन विज्ञापन व अन्य सेवाएं देता है तथा धीरे धीरे अपना व्यापार बढा रहा है।

गूगल का अविष्कार करने वाले लैरी पेज और सर्गेई ब्रिन इस वेबसाइट का निर्माण करते समय स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय में पी.एच.डी के विद्यार्थी थे। उस समय उन्होंने एक ऐसी खोजी वेबसाइट को बनाने के बारे में सोचा जो इंटरनेट पर उपलब्ध जानकारी को कर्म पूर्वक व सरलता से खोजने लायक बना सके। उनकी इसी सोच ने गूगल को जन्म दिया। शुरू में यह वेबसाइट स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय के डोमेन (वेबसाइट के नाम को डोमेन कहा जाता है) पर ही चलाई गई व बाद में गूगल को एक अलग नाम व डोमेन दिया गया।

लेरी पेज और सर्गेई ब्रिन अमेरिका के कैलिफ़ोर्निया के वासी हैं तथा उनकी यह वेबसाइट आज विश्व के अधिक्तर देशों में में अपनी सेवा दे रही है। भारत गूगल का प्रयोग करने वाले प्रथम तीन देशों में आता है।
Sponsored Links

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें