Sponsored Links

भारत में कुल कितनी दुकान हैं

भारत एक विकासशील देश है इसलिए यहां की जनता बहुत तेजी से विकास की ओर बढ़ रही है तथा अपने उद्योग व व्यापार स्थापित कर रही है। वर्तमान में भारत में कुल 1 करोड़ 30 लाख दुकानें हैं। जिनकी सँख्या समय के साथ साथ तेजी से बढ़ रही हैं। और क्योंकि भारत एक कृषि प्रधान देश है इसलिए आज भी भारत की 70 प्रतिशत जनसँख्या कृषि पर निर्भर है परन्तु जैसे जैसे देश नए किस्म के उद्योगों तथा व्यापार के क्षेत्र में आगे बढ़ रहा है देश में दुकानों का जाल अर्थात रिटेल नेटवर्क बड़ा होता जा रहा है।

इन दुकानों के बढ़ने की रफ्तार क्या है इसका अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते हैं कि जो स्थान कुछ समय पूर्व कस्बे हुआ करते थे वे शहरों में तब्दील हो चुके हैं वहीं शहर को नगरों में तथा नगर को महानगरों में परिवर्तित हुए देखा जा सकता है। अब जितना बड़ा शहर या नगर होगा उतना ही बड़ा इसका बाजार होगा और जितना बड़ा बाजार होगा उतनी ही अधिक इसमें दुकानें होंगी। पिछले कुछ दशक में भारत में गांव को कस्बों में व शहरों को नगरों-महानगरों में परिवर्तित हुआ देखा गया है जिस कारण हम कह सकते हैं कि भारत में रिटेल नेटवर्क तेजी से बढ़ रहा है।

किस कम्पनी की पहुँच भारत की सबसे अधिक दुकानों तक है:
हिंदुस्तान यूनिलीवर कम्पनी की पहुँच भारत में सर्वाधिक दुकानों तक है यह कम्पनी 65 लाख रिटेलर नेटवर्क बनाने में सफल हुई है। 65 लाख की यह सँख्या भारत के कुल रिटेलर नेटवर्क का 50% है। हिंदुस्तान यूनिलीवर को भारत की सबसे सफल कम्पनी माना जाता है तथा यह अकेली ऐसी कम्पनी है जो भारत में इतने बड़े स्तर पर फैल सकी है। 18000 वर्करों से युक्त इस कम्पनी की स्थापना वर्ष 1933 में हुई थी। स्थापना के समय इसका नाम लीवर ब्रदर्स रखा गया था। वर्ष 2007 में एक नामकरण हिंदुस्तान यूनिलीवर लमिटेड के रूप में किया गया। यह कम्पनी खाद्य सामग्री, चाय इत्यादि से लेकर रोजाना प्रयोग होने वाले उत्पाद जैसे कि कोलगेट इत्यादि बनाती है। वर्तमान में भारत के लगभग 70 करोड़ लोग इसके उत्पादों का प्रयोग कर रहे हैं। वर्ष 2011 की जनगणना के अनुसार भारत की कुल जनसंख्या 125 करोड़ है इस प्रकार 70 करोड़ लोगों तक अपना प्रोडक्ट पहुँचाना इस कम्पनी बड़े स्तर को दर्शाता है।
Sponsored Links

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें