Sponsored Links

तिलैया बांध किस नदी पर बना है

भारत के झारखंड राज्य के सबसे प्रचलित बांधो में से एक तिलैया बांध बराकर नदी पर स्थित है। इस बांध का नाम आमतौर पर झुमरी तिलैया के साथ लिया जाता है। झारखंड के कोडरमा जिले में स्थित यह बांध दामोदर नदी से आने वाली विशालकाय बाढ़ से बचने के उद्देश्य से बनाया गया था। 100 फीट की ऊंचाई वाले तिलैया बांध का नाम भारत के सबसे प्रचलित बांधों की सूची में आता है यह बांध 1200 फीट लम्बा है तथा दामोदर नदी में आने वाली विशाल बाढ़ को रोकने के उद्देश्य से इसके रिजरवॉयर को 36 वर्ग किलो मीटर में फैलाया गया है।

किस नदी पर बना है: बराकर नदी पर
कब बनाया गया: 21 फरवरी 1953 को
क्यों बनाया गया: दामोदर नदी में आने वाली विशालकाय बाढ़ को रोकने के लिए।

जहाँ एक तरफ तिलैया बाँध का दामोदर की बाढ़ रोकने में अहम योगदान है वहीं इतनी बड़ी मात्रा में पानी का झरनों के रूप में गिरना मनमोहक दृश्य प्रस्तुत करता है। जिस कारण इस बांध के आस पास का क्षेत्र पर्यटक स्थल में बदल चुका है। इस बांध का निर्माण वर्ष 1953 में करवाया गया था तथा जो झुमरी नामक स्थान यहाँ पर बसा है इस बांध के कारण उसका नाम झुमरी तिलैया के रूप में मशहूर हो गया। आस पास के इलाकों में तो यह स्थान आकर्षण का केंद्र बनता ही है वहीं दूर दराज के क्षत्रों से यहाँ आने वाले पर्यटकों की सँख्या भी कम नही है।

झारखंड सरकार ने पर्यटन का महत्व समझते हुए तिलैया डैम के पानी युक्त क्षेत्र में बोटिंग (कश्ती) की सुविधा उपलब्ध करवा दी है। जिससे यहाँ आने वाले पर्यटकों की संख्या में इजाफा हुआ है। इस प्रकार बाढ़ जैसी विकट परिस्थिति से निपटता यह बांध झारखंड की आर्थिक रूप से सहायता कर रहा है।
Sponsored Links

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें