Sponsored Links

BBC full form in Hindi बीबीसी का पूरा नाम

आपने कभी ना कभी BBC का नाम अवश्य सुना होगा यह नाम कभी आपको रेडियो कभी TV तो कभी समाचार माध्यमों से कहीं ना कहीं दिखाई दे ही जाता है लेकिन आखिरकार इसकी नाम की फुल फॉर्म क्या है और बीबीसी नाम का जन्म कहां हुआ था? इस बारे में पूरी जानकारी लेने के लिए इस पृष्ठ को अंत तक पढ़े:

बी बी सी की फुल फॉर्म होती है British Broadcasting Corporation जिसे हिंदी में (ब्रिटिश ब्रॉडकास्टिंग कॉरपोरेशन) लिखा जाता है। यह एक समाचार एजेंसी है जो कि विश्व स्तर पर कार्य करती है। बैश्विक स्तर पर बीबीसी ने न्यूज़ क्षेत्र में अपना एक अलग ही मुकाम हासिल किया है तथा इस समय दुनिया की सबसे बड़ी जानी मानी समाचार एजेंसियों में BBC का नाम प्रमुखता से लिया जाता है जो कि रेडियो तथा टीवी दोनों पर अपने समाचार प्रस्तुत करती है मौजूद समय म सोशल मीडिया पर भी BBC का प्रभाव देखने को मिलता है।

यदि BBC की शुरुआत की बात की जाए तो इसकी शुरुआत 18 अक्टूबर 1922 को हुई थी और शुरुआत के समय यह केवल रेडियो के माध्यम से समाचार उपलब्ध करवाती थी इसकी स्थापना लंदन में हुई थी तथा यह दुनिया की पहली ऐसी समाचार एजेंसी बनी जो जिसने राष्ट्रीय स्तर पर समाचारों का प्रसारण आरंभ किया तथा धीरे-धीरे यह पूरे विश्व में फैल गई। वर्तमान की बात की जाए तो बीबीसी दुनिया की 40 अलग-अलग भाषाओं में समाचार उपलब्ध करवाती है इसके संस्थापक जॉन रिमथ थे जिन्होंने इस बात को समझा कि लोगों को रेडियो यानी कि ध्वनि के माध्यम से समाचार तथा आसपास की घटनाओं की जानकारी देना एक अच्छा व्यापार बन सकता है। इसी कारण उन्होंने पहले 1922 में BBC रेडियों की स्थापना की तथा वर्ष 1932 तक 10 साल के अंदर-अंदर उन्होंने BBC को TV पर भी उपलब्ध करवा दिया यानी कि अब समाचार सुनने के साथ-साथ टीवी पर देखे जा सकते थे।

रेडियो और टीवी दोनों पर आने के बाद बीबीसी ने 
"दिस इज व्हाट वी डू" का नारा दिया। धीरे धीरे BBC इंडिया में भी अपने व्यापार को बढ़ाना शुरु कर दिया तथा आज BBC भारत की 8 भाषाओं में समाचार उपलब्ध करवाती है जिनमें से सबसे मुख्य हिंदी है तथा उसके बाद तेलुगु, तमिल, उर्दू, बंगाली, गुजराती, मराठी व पंजाबी का नाम आता है इन सब भाषाओं में बीबीसी को सोशल मीडिया पर फॉलो किया जा सकता है तथा यह एक बहुत ही विश्वासनीय समाचार उपलब्ध करवाती है भारत के बारे में पुराने समाचार जो कि 1980 के दशक से भी पहले के हैं उनका मुख्य स्त्रोत आज BBC ही है भारत के बहुत से ऐसे महत्वपूर्ण घटनाएं इतिहास में हुई हैं जिनके बारे में बीबीसी ने जानकारियां उपलब्ध करवाई तथा जो आज की मीडिया के लिए बहुत ही अधिक लाभदायक हैं।

हालांकि बीबीसी द्वारा इंडिया की एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री यानी कि मनोरंजन जगत में भी अपना व्यापार फैलाने की कोशिश की गई थी लेकिन वर्ष 2014 में इंडियन मार्केट में कंपटीशन को देखते हुए BBC से ने अपना चैनल "BBC एंटरटेनमेंट" और सी-बिबिज को हटा दिया था क्योंकि इंडियन मार्किट के मनोरंजन जगत में BBC चैनल खुद को स्थापित कर पाने में असमर्थ हो चुका था। लेकिन BBC News का वर्चस्व भारतीय मार्किट में भी आज भी कायम है हालांकि भारत के राष्ट्रीय चैनलों जैसे कि आज तक, ज़ी न्यूज़, एबीपी न्यूज तथा इंडिया न्यूज़ जैसे चैनलों ने BBC का व्यापार देश में काफी घटा दिया है।

Sponsored Links

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें