Sponsored Links

खिसियानी बिल्ली खम्बा नोचे का अर्थ क्या होता है

प्राचीन समय से ही बहुत ही कहावतें बोली जाती रही है इनमें से कुछ कहावतें ऐसी हैं जिन्होंने समय के साथ बहुत अधिक प्रसिद्धि प्राप्त कर ली है खिसियानी बिल्ली खंबा नोचे यह भी एक ऐसी कहावत है जो बहुतयात तौर पर प्रयोग की जाती है। और आम तौर पर आपने बहुत बार इस कहावत को सुना भी होगा। यह कहावत किसी पर कटाक्ष करने के लिए प्रयोग की जाती है इसका वास्तविक अर्थ क्या है तथा इसे उपयोग में क्यों लाया जाता है इस बारे में पूर्ण जानकारी प्राप्त करने हेतु इस पोस्ट को अंत तक पढ़े।

खिसियानी बिल्ली खंबा नोचे का अर्थ होता है अपनी असफलता का गुस्सा दूसरों पर निकालना। मान लीजिए कोई व्यक्ति है जो कि अपनी असफलता के कारण या किसी भी अन्य कारणवश खीझ मान गया है अर्थात गुस्से में है और वह अपनी उस असफलता के लिए खुद जिम्मेदार है लेकिन फिर भी वह जबरदस्ती बिना किसी तर्क-वितर्क के दूसरों पर उस चीज का दोष लगाने में जुटा हुआ है। इस स्थिति की तुलना बिल्ली के एक अनुचित व्यवहार से की जाती है। ठीक वैसे ही जैसे अपना शिकायत न पकड़ पाने के कारण खीजी हुई बिजली खंबे को नोचना शुरु कर देती है जबकि उस खम्बे पर इसका कोई प्रभाव नहीं होता। ठीक ऐसे ही अर्थहीनता के साथ अपनी असफलता के लिए दूसरे को दोषी बनाए जाने की कोशिश करने वाले भी ऐसे ही अपनी खीज दूसरों पर निकालते हैं।

उदाहरण के लिए एक वाक्य लीजिए:
वाक्य: तुम खुद परीक्षा में पास नही हो सके और मास्टरजी पर दोष लगा रहे हो यह तो वही बात हो गई खिसियानी बिल्ली खंबा नोचे।
Sponsored Links

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें