Sponsored Links

मुगल भारत कब व क्यों आए थे?

मुगल कौन थे : मुगल विदेशी शासक थे जिन्होंने लगभग 300 वर्षों तक भारत पर शासन किया। मुगल साम्राज्य का संस्थापक बाबर व उत्तरवर्ती शासक तुर्क एंव सुन्नी मुसलमान थे।

मुगल भारत कब आए : मुगलों ने 21 अप्रैल 1526 का पानीपत का प्रथम युद्ध जीतकर भारत में अपने साम्राज्य (1526 से 1857) की स्थापना की थी इसलिए हम कह सकते हैं कि मुगल वर्ष 1526 में भारत आए।

मुगलों द्वारा लड़ा गया पानीपत का प्रथम युद्ध किस-किस के बीच हुआ था : बाबर और इब्राहिम लोदी के बीच (इब्राहिम लोदी भी भारतीय नही था वह अफगान था जो दिल्ली सल्तनत 1206 - 1526 के आखिरी वंश लोदी वंश का आखिरी शासक बना)

मुगल भारत क्यों आए : मुगल खुद से भारत नही आए बल्कि उन्हें आमंत्रित किया गया था। बाबर को दौलत खान लोदी ने दिल्ली को लूटने के लिए आमंत्रित किया था। दौलत खान लोदी दिल्ली सल्तनत के अंतिम शासक इब्राहिम लोदी का चचेरा भाई था जिसे इब्राहिम लोदी ने लाहौर का गवर्नर बनाया हुआ था लेकिन वो दिल्ली की गद्दी चाहता था इसलिए उसने दिल्ली पर आक्रमण करने के लिए बाबर को आमंत्रित किया था। (इस आमंत्रण में इब्राहिम लोदी के चाचा आलम खान लोदी और राणा साँगा का भी नाम आता है)

दौलत खान लोदी ने बाबर (मुगलों) को ही क्यों आमंत्रित किया : बाबर अपनी मंगोली पद्दति का प्रयोग कर किए जाने वाले आक्रमणों के लिए प्रसिद्ध था तथा आस पास के छोटे राज्यों पर तीव्र प्रहार करने और उन्हें लूटने के कारण उसका नाम चारों ओर फैल गया था इसलिए दौलत खान लोदी ने दिल्ली को कमजोर करने के लिए बाबर को आमंत्रित करना उचित समझा ताकि बाबर के वापिस जाने के बाद वो खुद दिल्ली पर शासन कर सके लेकिन बाबर कभी वापिस गया ही नही और दिल्ली जीतने के बाद उसने मुगल साम्राज्य की स्थापना कर दी जिसने आगे चलकर भारत का लंबा इतिहास लिखा।


Sponsored Links

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें