Sponsored Links

ओमान की मुद्रा क्या है Oman Ki Currency Kya Hai

ओमान एक ऐसा देश है जिसकी मुद्रा दुनिया की तीसरी सबसे शक्तिशाली मुद्रा के रूप में जानी जाती है ओमान की मुद्रा का नाम रियाल है और इसे पूरी तरह ओमानी रियाल के नाम से जाना जाता है क्योंकि मध्य पूर्वी अफ्रीका के बहुत से देशों में रियाल नाम से मुद्रा चलती है इसलिए इनको अलग-अलग समझने के लिए देश का नाम इनके साथ लगाया जाता है ओमान में ओमानी रियाल चलते हैं जिसकी रुपए के मुकाबले कीमत 170 से 180 के बीच रहती है यानि कि एक ओमानी रियाल की कीमत लगभग ₹180 के करीब चलती है जो कि देखने में ही एक शक्तिशाली मुद्रा प्रतीत होती है।

कभी ओमान में भारतीय रूपया चलता था:
जी हां एक समय ऐसा भी था जब ओमान में भारतीय रूपया चला करता था ब्रिटिश राज में 20वीं सदी में भारतीय रुपया बहुत से बाहरी स्थानों पर प्रचलित था ब्रिटिश राज में भारत की मुद्रा अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बहुत अधिक फैली हुई थी जो उन ब्रिटिश अधिकारियों द्वारा चलाई गई थी जो भारत में बैठकर अपने अधिकार क्षेत्र पर की कार्यवाही चलाया करते थे इसलिए उन्होंने मिडिल ईस्ट के अधिकतर देशों जैसे कि इराक, कुवैत तथा ओमान इत्यादि में भारतीय रुपए को मुद्रा के रूप में प्रचारित किया था और इन देशों ने कई वर्षों तक भारतीय रुपए को अपनी मुद्रा के रूप में प्रयोग भी किया हालांकि ब्रिटिश राज्य समाप्त होने के पश्चात धीरे-धीरे इन देशों में अपनी करेंसी अपना ली। ओमान भी इन्हीं देशों में से एक था।

पैसा को बैसा नाम से जाना जाता है ओमान में:
क्योंकि ओमान में पहले रुपया मुद्रा चला करती थी इसीलिए वहां पर जो अभी मुद्रा है वह पैसा से मिलती जुलती है उसका नाम पैसा से मिलता-जुलता रखा गया है ईरान में रियाल को 1000 बैसा में बांटा गया है यानि कि एक हजार बैसा एक ओमानी रियाल के बराबर होते हैं इरान में 100 बैसा का नोट चलता है।

ओमान में कितने ओमानी रियाल के नोटों का चलते हैं:
ओमान में 100 बैसा के बाद आधा ओमानी रियाल का नोट चलता है उसके बाद 1 ओमानी रियाल, 5 ओमानी रियाल, 10 ओमानी रियाल, 20 ओमानी रियाल तथा 50 ओमानी रियाल के नोट का चलन है।

ओमान में कितने ओमानी रियाल के सिक्कों का चलन है:
ओमान में 5 ओमानी रियाल 10 ओमानी रियाल 25 ओमानी रियाल तथा 50 ओमानी रियाल के सिक्के चलते हैं।

ओमान में भारतीय रुपए के अतिरिक्त कौन सी अन्य मुद्रा चला करती थी:
मारिया थेरेसा सलेर

ओमान ने कब से कब तक किस किस मुद्रा का प्रयोग किया:
सबसे पहले ओमान ने 1940 में 200 बैसा तथा रियाल का चलन आरंभ किया। इसके बाद 1959 में गल्फ रूपी का चलन आरंभ किया जो कि 1966 तक चला वर्ष 1970 में रियाल सैदी नामक नई मुद्रा ने रूपए को रिप्लेस कर दिया तथा वर्ष 1973 में ओमानी रियाल अस्तित्व में आया जिसने रियाल सैदी को स्थानांतरित किया। इसके बाद एक रियाल को 1000 बैसा में बांट दिया गया जो आज तक चलन में है।
Sponsored Links

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें