Sponsored Links

Yahoo Full Form in Hindi याहू का पूरा नाम क्या है

याहू इंटरनेट की दुनिया का सबसे बड़ा नाम है और एक समय यह Google से भी बड़ा था। याहू की शुरुआत वर्ष 1994 में हुई थी। इसे जेरी यांग तथा डेविड फिलो ने मिलकर बनाया था। इसके बनने से लेकर वर्ष 2000 तक याहू का पूरे इंटरनेट पर वर्चस्व था लेकिन जब Google की शुरुआत हुई तो Yahoo पिछड़ता चला गया। आगे की जानकारी जानने से पहले आइए जानते हैं याहू की फुल फॉर्म क्या होती है।

याहू की फुल फॉर्म है:
"Yet Another Hierarchically Organized Oracle"

हिंदी:
"येट अनदर हिरार्चिकॉली आर्गनाइज्ड ओरेकल"

हिंदी अर्थ:
एक श्रेणीबद्ध संगठित ओरेकल

1994 में शुरू हुए याहू की सर्च तकनीक इतनी बेहतर नहीं थी इसलिए इसने वर्ष 2000 में Google की सर्च टेक्नोलॉजी का उपयोग करना शुरू कर दिया और 4 साल बाद वर्ष 2004 में अपनी खुद की सर्च टेक्नोलॉजी ईजाद कर ली तथा उसी के तहत अपने आगे के इंटनेट सर्च व्यापार में बढ़ने लगा। लेकिन फिर भी याहू Google का मुकाबला नहीं कर सका क्योंकि गूगल पहले ही खुद को सफल बना चुका था इसके बाद Google ने अपनी Gmail की सर्विस लॉन्च कर दी जिसके बाद याहू का ध्यान मेल प्रतिस्पर्धा की ओर गया तथा याहू ने अपनी मेल सर्विस में अनलिमिटेड स्टोरेज जैसी सुविधाएं देकर प्रतिस्पर्धा में जीतने की कोशिश की लेकिन इस बार भी याहू नाकाम रहा।

याहू की बिगड़ती हालत को देखते हुए माइक्रोसॉफ्ट ने याहू को खरीदने के लिए 44 अरब डॉलर की पेशकश रखी। लेकिन याहू ने यह डील करने से मना कर दिया इसके बाद वर्ष 2012 तक याहू की हालत खराब होती चली गई। इस बीच वर्ष 2012 में याहू ने मैरिसा मेयर को अपनी मुख्य कार्यकारी अधिकारी के रूप में चुन लिया। वर्ष 2013 में Google की ब्लॉगिंग सर्विस को टक्कर देने के उद्देश्य से याहू ने Tumblr को खरीद लिया। Tumblr भी गूगल की ब्लॉगर सर्विस के सामने टिक न सकी और Yahoo की हालत गिरती चली गई। वर्ष 2017 में याहू को वेरिज़ॉन कम्युनिकेशन ने $4.83 अरब डॉलर में खरीद लिया और इस तरह याहू का पतन हो गया। लेकिन आज भी याहू की कुछ सर्विस के चलते यह एलेक्सा रैंक के मामले में दुनिया की 10 सबसे बड़ी वेबसाइटों में शामिल है।

Sponsored Links

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें