Sponsored Links

गोवा की राजधानी क्या है Goa Ki Rajdhani Kya Hai

Goa Capital in Hindi:
(Goa Ki Rajdhani Kahan Par Hai):

गोआ या गोवा जिसे वर्ष 1987 में राज्य दर्जा दिया गया था की राजधानी के बारे में यदि आप पूरी जानकारी चाहते हैं तो आप इस पेज को अंत तक पढ़े। क्योंकि इस पृष्ठ पर गोवा की राजधानी के नाम के साथ साथ इसके बारे में पूरे सामान्य ज्ञान सबंधित तथ्य उपलब्ध करवाए गए हैं।

गोवा पर भारत का अधिकार वर्ष 1961 में हुआ था जब भारत की सेना ने "ऑपरेशन विजय" चलाकर इसे पुर्तगालियों के कब्जे से आजाद करवाया था। 1961 से 1987 तक गोवा भारत के एक अन्य केंद्र शासित प्रदेश दमन एंड दीव की राजधानी रहा। तत्पश्चात वर्ष 1987 में गोवा को राज्य का दर्जा प्रदान किया गया।

3,792 वर्ग किलो मीटर के क्षेत्रफल के साथ गोवा क्षेत्रफल की दृष्टि से भारत के 29 राज्यों में अंतिम स्थान रखता है। गोवा क्षेत्रफल की दृष्टि से भारत का सबसे छोटा राज्य है वही जनसंख्या की दृष्टि से इसे 26 वां स्थान प्राप्त है। इतना छोटा होने के बावजूद भी समुंद्र के किनारे बसा होने के कारण यहां पर अंतरराष्ट्रीय व्यापार के अच्छे खासे अवसर मौजूद हैं।

गोवा की राजधानी:

गोवा की राजधानी का नाम पणजी है जिसे अंग्रेजी में पंजिम कहा जाता है और पुर्तगाली इसे पांगिम कह कर पुकारते थे। पुर्तगालियों ने वर्ष 1843 में पणजी को अपनी राजधानी बनाया था और उस समय इसका नाम "नवा गोवा" रखा गया था। पुर्तगालियों ने 1510 से 1961 तक पणजी सहित पूरे गोवा पर राज किया। पुर्तगाल और भारत के मध्य होने वाले व्यापार में इस क्षेत्र ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी।

पणजी शब्द का अर्थ होता है "एक नाव और एक छोटी सी क्रीक (क्रीक समुंदर किनारे बनी एक बड़ी दरार को कहा जाता है जो एक नदी का रुप ले लेती है) पणजी; वास्कोडिगामा और मडगांव के बाद गोवा का तीसरा सबसे बड़ा शहर है तथा पर्यटन की दृष्टि से बहुत ही महत्वपूर्ण स्थल है यह स्थान गोवा की अर्थव्यवस्था में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है और किसी भी मायने में अन्य शहरों से पीछे नहीं है।

पणजी के बारे में अन्य तथ्य:

पणजी महानगरीय क्षेत्र की जनसंख्या 1.14 लाख के लगभग है जिसमें 52 फ़ीसदी पुरुष तथा 48 फ़ीसदी महिलाओं की हिस्सेदारी है। पणजी का महानगरीय विस्तार 72 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्र में फैला हुआ है तथा यहां पर साक्षरता दर 90.9% है जिसमें पुरुष 94 फ़ीसदी पढ़े-लिखे हैं तो वहीं महिलाओं का पढ़ाई में प्रतिशत 87% है इसलिए पणजी भारत के सर्वाधिक पढ़े लिखे शहरों में की सूची में गिना जाता है।

भौगोलिक दृष्टि से पणजी मांडोवी नदी के किनारे पर स्थित है। 400 वर्ष से अधिक समय तक पुर्तगालियों के कब्जे में रहे पणजी सहित पूरे गोवा पर 1961 में भारत का अधिकार स्थापित होने के बाद 16 वर्षों तक भी बाहरी आक्रमण का खतरा मंडराता रहा जिस कारण इसे दमन-दीव की राजधानी के रूप में स्थापित कर इसकी रक्षा सुनिश्चित की गई। इसके पश्चात जब 1987 में गोवा को राज्य का दर्जा दिया गया तो उसी समय पणजी भी इसकी राजधानी घोषित हुई।

पणजी की जानकारी "सामान्य ज्ञान प्रश्न उत्तर" के रूप में:

* गोवा की राजधानी क्या है?
पणजी (पंजिम)

* गोवा को किस वर्ष राज्य का दर्जा प्रदान किया गया?
वर्ष 1987 में

* पणजी किस नदी के किनारे स्थित है?
मांडोवी नदी के किनारे पर

* गोवा को किस वर्ष पुर्तगालियों से आज़ाद करवाया गया था?
वर्ष 1961 में

* गोवा की आज़ादी के लिए चलाए गए मिशन का क्या नाम था?
आपरेशन विजय

* पुर्तगालियों ने कब से कब तक गोवा पर राज किया?
1510 से 1961 तक

* पणजी को अन्य किन नामों से जाना जाता है?
अंग्रेजी में पंजिम, पुर्तगाली में पंगिम और प्राचीन में नोवा गोवा के नाम से

* पणजी का विस्तार क्या है?
15°29'56" उत्तर में
73°49'40" पूर्व में

* पणजी की साक्षरता दर क्या है?
90.9% (जनगणना 2011 के अनुसार)

* पणजी की जनसँख्या कितनी है?
1.14 लाख (जनगणना 2011 के अनुसार)

* पणजी को पुर्तगालियों ने अपनी राजधानी कब बनाया था?
वर्ष 1843 में

* पणजी का अर्थ क्या होता है?
एक नाव (और क्रीक)

* भारत का कौन सा राज्य है जो कभी अंग्रेजों का गुलाम नही रहा?
गोवा (क्योंकि यह पुर्तगालियों के कब्जे में था)

* पणजी में गोवा के किस जिले का प्रशासनिक मुख्यालय है?
उत्तरी गोवा का

Sponsored Links

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें