Sponsored Links

राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार विजेता सामान्य ज्ञान प्रश्न Rajiv Gandhi Khel Ratna Award Winners GK Question in Hindi

भारत में खेलों को प्रोत्साहन देने के लिए सरकार समय-समय पर कदम उठाती रही है और प्रोत्साहन भरे इन्हीं कदमों के तहत सरकार द्वारा बहुत से सम्मानित पुरस्कार खेल क्षेत्र में तय किए हैं जो खिलाड़ियों को प्रेरित करने के साथ ही उन्हें समाज में एक अलग ओहदा दिलाने में मदद करते हैं। इन सभी पुरस्कारों में जो सर्वश्रेष्ठ खेल पुरस्कार है वह है "राजीव गांधी खेल रतन पुरस्कार" आज हम इसी पुरस्कार से जुड़े सामान्य ज्ञान प्रश्न जानेंगे। क्योंकि खेल पुरस्कार से संबंधित बहुत से प्रश्न परीक्षा में पूछे जाते रहे हैं और क्योंकि राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार भारत में खेल जगत का सबसे बड़ा पुरस्कार है इसलिए यह एक महत्वपूर्ण विषय बन जाता है तो आइए जानते हैं राजीव गांधी खेल रत्न से सबंधित वो सभी प्रश्नोत्तर जो परीक्षाओं के लिहाज से अत्ति महत्वपूर्ण हैं।

भारत का सबसे बड़ा खेल पुरस्कार कौन सा है?
भारत का सबसे बड़ा खेल पुरस्कार राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार है जो कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बेहतर प्रदर्शन करने वाले भारतीय खिलाड़ियों को दिया जाता है। इस पुरस्कार के बाद खेल जगत में क्रमशः अर्जुन पुरस्कार, द्रोणाचार्य पुरस्कार और ध्यानचंद पुरस्कार का नाम आता है।

राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार की शुरुआत कब की गई थी?
राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार की शुरुआत वर्ष 1991-92 में की गई थी और इस पुरस्कार का नाम भारत के छठे प्रधानमंत्री स्वर्गीय राजीव गांधी के नाम पर रखा गया है। राजीव गांधी वर्ष 1984 से 1989 तक भारत के प्रधानमंत्री रहे। उनके समय में भारत के राष्ट्रपति पद पर ज्ञानी जैल सिंह और आर. वेंकटरमण ने अपनी सेवाएं दी थी। राजीव गांधी से पूर्व भारत की प्रधानमंत्री श्रीमती इंदिरा गांधी थी तथा इनके बाद वी. पी. सिंह भारत के प्रधानमंत्री बने।

राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार किस विभाग द्वारा दिया जाता है?
यह पुरस्कार मिनिस्ट्री ऑफ यूथ अफेयर्स एंड स्पोर्ट्स द्वारा खिलाड़ियों का मनोबल व उनकी सामाजिक छवि बढ़ाने के लिए दिया जाता है।

यह पुरस्कार किस प्रकार के खेलों में अच्छा प्रदर्शन करने हेतु प्रदान किया जाता है?
यह पुरस्कार अंतरराष्ट्रीय खेल, ओलंपिक गेम्स, एशियाई खेल कॉमनवेल्थ गेम्स इत्यादि अंतराष्ट्रीय स्तर पर होने वाले खेलों में अच्छा प्रदर्शन करने के लिए दिया जाता है।

यह पुरस्कार खिलाड़ी के कितने वर्षों के प्रदर्शन पर आधारित होता है?
पहले यह अवॉर्ड खिलाड़ी के पिछले 1 वर्ष के प्रदर्शन के आधार पर आधारित होता था लेकिन वर्ष 2017 के बाद यह समय सीमा 4 वर्ष कर दी गई। नए नियमों के अनुसार जो खिलाड़ी बीते 4 वर्षों में लगातार अच्छा प्रदर्शन करता है उसे राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार से सम्मानित किया जाता है।

राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार के लिए खिलाड़ियों का चयन करने वाली कमेटी में कितने सदस्य होते हैं?
12 सदस्य

क्या यह पुरस्कार मरणोपरांत दिया जा सकता है?
जी हाँ... इस पुरस्कार को मरणोपरांत दिए जाने का प्रावधान रखा गया है।

प्रतिवर्ष एक खेल में से कितने खिलाड़ियों को यह पुरस्कार देने के लिए नामांकित किया जा सकता है?
दो खिलाड़ियों को

क्या एक खेल के दो खिलाड़ियों को एक ही साथ राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार से पुरस्कृत किया जा सकता है?
जी हाँ... यदि खेल सिंगल खिलाड़ी द्वारा खेला जाने वाला खेल है तो 1 वर्ष में एक ही खिलाड़ी को इस पुरस्कार से पुरस्कृत किया जा सकता है लेकिन टीम बनाकर खेले जाने वाली गेम्स में एक से अधिक खिलाड़ियों को यह पुरस्कार दिया जा सकता है।

राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार सर्वप्रथम किसे दिया गया था?
चेस ग्रैंडमास्टर विश्वनाथन आनंद को। उन्हें इस पुरस्कार से वर्ष 1992 ने नवाजा गया था।

सबसे कम उम्र में किस खिलाड़ी को राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार से सम्मानित किया गया है?
शूटर अभिनव बिंद्रा को। इन्हें 18 वर्ष की आयु में राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार से पुरस्कृत किया गया था जो कि इस पुरस्कार को प्राप्त करने वाले सबसे कम उम्र के खिलाड़ी बने।

किस एकमात्र खिलाड़ी को राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार दो अलग-अलग खेलों में अच्छा प्रदर्शन करने के लिए प्राप्त हुआ है?
पंकज आडवाणी को (पंकज आडवाणी को यह पुरस्कार बिलियार्ड और स्नूकर दोनों खेलों में अच्छा प्रदर्शन करने के लिए प्रदान किया गया है।) यह दोनों खेल देखने में आपको एक जैसे लगेंगे लेकिन दोनों अलग-अलग डिसिप्लिन के खेल है।

कोई खिलाड़ी राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार कितनी बार प्राप्त कर सकता है?
यह एक लाइफ टाइम अचीवमेंट अवॉर्ड है और कोई भी खिलाड़ी जीवन में एक ही बार इस अवॉर्ड को प्राप्त कर सकता है।

राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार को प्राप्त करने वाली प्रथम महिला खिलाड़ी कौन बनी?
वेटलिफ्टर कर्णम मल्लेश्वरी।

यह पुरस्कार किन परिस्थितियों में खिलाड़ी से वापस लिया जा सकता है?
यदि खेल विभाग को लगे कि जिस खिलाड़ी को इस पुरस्कार से नवाजा गया है उसने गलत तरीके से यह पुरस्कार प्राप्त किया है तो यह पुरस्कार उस खिलाड़ी से वापिस लिया जा सकता है।

List of Rajiv Gandhi Khel Ratna Awardees in Hindi (खेल रत्न पुरस्कार प्राप्त करने वाले खिलाड़ियों की सूची) :

1992 : विश्वनाथन आनंद (चेस)

1993 : गीत सेठी (बिलयार्ड)

1995 : होमी मोटिवाला और पी.के. गर्ग (नौकायन)

1996 : कर्णम मल्लेश्वरी  (वेट लिफ्टिंग)

 1997 : कुंजुरानी देवी (वेट लिफ्टिंग) और लैंडर पास (लॉन टेनिस)

1998 : सचिन तेंदुलकर (क्रिकेट)

1998 : ज्योतिमोई सिकंदर (एथलेटिक्स)

2000 : धनराज पिल्लई (हॉकी)

2001 : पुलेला गोपीचंद (बैडमिंटन)

2002 : अभिनव बिंद्रा (शूटिंग)

2003 : अंजली भागवत (शूटिंग) और के.एम. बिनामोल (एथलेटिक्स)

2004 : अंजू बॉबी जॉर्ज (एथलेटिक्स)

2005 : राज्य वर्धन और सिंह राठौड़ (शूटिंग)

2006 : पंकज आडवाणी (बिलियार्ड / स्नूकर)

2007 : मानवजीत सिंह सन्धु (शूटिंग)

2008 : महेंद्र सिंह धोनी (क्रिकेट)

2009 : एम.सी. मैरीकॉम (बॉक्सिंग), विजेंदर सिंह (बॉक्सिंग) और सुशील कुमार (रेसलिंग)

2010 : साइना नेहवाल (बैडमिंटन)

2011 : गगन नारंग (शूटिंग)

2012 : विजय कुमार (शूटिंग) और योगेश्वर दत्त (रेस्लिंग)

2013 : रंजन सोढ़ी (शूटिंग)

2015 : सानिया मिर्जा (लॉन टेनिस)

2016 : पी.वी. सिन्धु (बैडमिंटन), दीपा कामिकर (जिमनास्टिक्स), साक्षी भाई (रेस्लिंग) और जीतू राय (शूटिंग)

2017 : देवेंद्र झजरिया (भाला फेंक) और सरदार सिंह (हॉकी)

2018 : विराट कोहली (क्रिकेट) और मीराबाई चानू (वेटलिफ्टिंग)

Sponsored Links

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें