Sponsored Links

अंतरराष्ट्रीय शिक्षक दिवस कब मनाया जाता है

किसी भी व्यक्ति के जीवन में शिक्षक/ गुरु की महत्वता बहुत अधिक होती है क्योंकि शिक्षक हर व्यक्ति के जीवन का सच्चा मार्गदर्शक होता है तथा जीवन को सही दिशा देता है। और यह भी सत्य है कि वही जीवन जो एक सही दिशा में चलता है उसे ही एक सफल व संतोषी जीवन कहा जा सकता है। शिक्षकों के इस महान कार्य के सम्मान में वर्ष का एक दिन पूर्णतः विश्व के शिक्षकों को समर्पित है वह दिन है 05 अक्टूबर।

प्रत्येक वर्ष 05 अक्टूबर को "अंतरराष्ट्रीय शिक्षक दिवस" मनाया जाता है जिसे वर्ल्ड टीचर डे या हिन्दी में विश्व शिक्षक दिवस के तौर पर भी जाना जाता है। इस दिन को मनाए जाने की शुरुआत वर्ष 1994 से की गई थी। अंतराष्ट्रीय शिक्षक दिवस के लिए 05 अक्टूबर का दिन इसलिए चुना गया है क्योंकि इस दिनांक को वर्ष 1966 में यूनेस्को (सयुंक्त राष्ट्र शैक्षिक वैज्ञानिक एवं सांस्कृतिक संगठन) और इंटरनेशनल लेबर ऑर्गेनाइजेशन ने साथ मिलकर शिक्षक के पद को अनिवार्यता देने के विषय पर चर्चा शुरू की थी इसी दिन की याद में प्रत्येक 05 अक्टूबर को अंतरराष्ट्रीय शिक्षक दिवस मनाया जाता है। इस चर्चा में शिक्षकों की अनिवार्यता व विकास में योगदान को देखते हुए पूरी दुनिया में शिक्षकों के लिए कुछ मानदंड तय करने की बात कही गई थी व इस बात पर भी विचार किया गया कि शिक्षक ऐसा हो जो अभ्यास तथा निरंतर शिक्षा के माध्यम से स्वयं के ज्ञान को आधुनिक आवश्यकताओं के अनुसार विकसित करता रहे।

प्रत्येक वर्ष अंतरराष्ट्रीय शिक्षक दिवस यूनेस्को और एजुकेशन इंटरनेशनल एक साथ मिलकर मनाते हैं तथा शिक्षा से जुड़े कई संस्थान जो विश्व भर में फैले हैं वे इस दिन शिक्षकों के सम्मान में कार्यक्रम आयोजित करते हैं। साथ ही जिन शिक्षकों ने अपने क्षेत्र में महत्वपूर्ण योगदान दिया होता है उन्हें इस विशेष दिवस के मौके पर सम्मानित किया जाता है। एक विद्यार्थी के जीवन तथा समाज के विकास में शिक्षकों के योगदान को नकारा नहीं जा सकता है इसलिए शिक्षा देने का अधिकार सिर्फ उस शिक्षक को होना चाहिए जो वास्तव में शिक्षा देने के काबिल हो। यही कारण है कि शिक्षक बनने के लिए कुछ मानदंड तय किए जाने की जरूरत समय-समय पर महसूस की जाती है और साथ ही आवश्यकतानुसार इन मानदंडों में संशोधन भी किए जाते हैं। एक योग्य शिक्षक ही अच्छे समाज का विकास कर सकता है और अपने शिष्यों के जीवन को प्रगति के मार्ग पर बढ़ा सकता है इसलिए शिक्षक शिक्षा देने योग्य है भी या नहीं इस बारे में विचार किया जाना चाहिए।

दुनिया भर के देशों में शिक्षक दिवस अलग-अलग दिनांक को मनाया जाता है। भारत में 05 सितंबर का दिन "राष्ट्रीय शिक्षक दिवस" के रूप में मनाया जाता है। भारत में इस दिवस के लिए 05 सितंबर की दिनांक भारत के प्रथम उपराष्ट्रपति डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन की जयंती (05 सितंबर 1818) को चिह्नित करने हेतु चुनी गई है। शिक्षा के क्षेत्र में डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन का अहम योगदान रहा है। भारत में 05 सितंबर को राष्ट्रीय शिक्षा दिवस के रूप में मनाए जाने की शुरुआत वर्ष 1966 से की गई थी। बात यदि भारत के पड़ोसी देशों की जाए तो पाकिस्तान में 05 अक्टूबर, श्रीलंका में 06 अक्टूबर, मालदीव में 05 अक्टूबर, नेपाल में आषाढ़ की पूर्णिमा को, भूटान में 02 मई और चीन में 10 सितंबर को शिक्षक दिवस मनाया जाता है।

Sponsored Links

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें