Sponsored Links

राजस्थान की राजधानी क्या है

क्षेत्रफल की दृष्टि से "भारत के सबसे बड़े राज्य राजस्थान" की राजधानी का नाम "जयपुर" है। जयपुर की स्थापना 18 नवंबर 1727 को आमेर के राजा "जय सिंह द्वितीय" द्वारा की गई थी। बाद में वर्ष 1876 में जब प्रिंस ऑफ वेल्स और क्वीन विक्टोरिया का जयपुर में आगमन हुआ तो जयपुर के तत्कालीन महाराजा राम सिंह ने पूरे शहर को गुलाबी रंग से रंगवा दिया। गुलाबी रंग इसलिए चुना गया क्योंकि इस रंग को अतिथि स्वागत का प्रतीक माना जाता था। गुलाबी रंग में रंगवाए जाने के कारण जयपुर को गुलाबी शहर केे नाम से जाना जाने लगा। जयपुर का नाम इसके संस्थापक राजा जयसिंह द्वितीय के नाम पर "जयनगर" रखा गया था जिसे बाद में जयपुर के नाम से जाना जाने लगा।

भारत की राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली से 280 किलोमीटर दूरी पर स्थित जयपुर 467 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्र में बसा हुआ है तथा इस शहर में 30 लाख से अधिक लोग निवास करते हैं। जयपुर राजस्थान में पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र बनता है यहाँ पर जंतर-मंतर और आमेर का किला दो ऐसी विरासतें हैं जिनका नाम यूनेस्को की सूची के अंतर्गत नामित है जो बड़ी संख्या में पर्यटकों को जयपुर की ओर आकर्षित करते हैं। भारत की आजादी के समय जयपुर की जनसंख्या 2 लाख के लगभग थी जो अब बढ़कर 30 लाख से अधिक पहुँच चुकी है।

पिंक सिटी के नाम से मशहूर जयपुर में साक्षरता दर 84% के लगभग है तथा यहां पर हर 100 में से 90 पुरुष तथा 77 महिलाएं शिक्षित हैं। जयपुर क्षेत्रफल की दृष्टि से राजस्थान का सबसे बड़ा शहर है और भारत में यह शहर 10 वां स्थान रखता है।

Sponsored Links

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें