Sponsored Links

BLO Full Form in Hindi | बीएलओ का पूरा नाम क्या है?

चुनाव आयोग भारत में चुनाव की प्रक्रिया को सरल व सदृढ़ बनाने के लिए प्रयासरत रहता है और इसी प्रयास के चलते चुनाव आयोग यह चाहता है कि चुनावों के समय उसकी पहुँच जमीनी स्तर तक हो जिससे वह मतदाताओं का उचित मार्गदर्शन कर सके व चुनाव की प्रक्रिया को बिना किसी परेशानी के सुलभ तरीके से चला सके। इसी उद्देश्य को ध्यान में रखते हए चुनाव आयोग सभी चुनाव क्षेत्रों में BLO की नियुक्ति करता है। इस आर्टिकल में हम जानेंगे कि BLO कौन होता है और वह किस तरह से चुनावों के समय चुनाव आयोग की सहायता करता है। BLO की फुल फॉर्म के साथ साथ इससे जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी के लिए पृष्ठ को अंत तक पढ़ें।

BLO की फुल फॉर्म होती है Booth Level Officer जिसे हिंदी में बूथ लेवल ऑफिसर लिखा जाता है और इसका हिंदी में अर्थ होता है बूथ स्तर अधिकारी

जमीनी स्तर पर किसी क्षेत्र में चुनाव प्रक्रिया को सुचारू रूप से चलाने के लिए चुनाव आयोग द्वारा BLO की नियुक्ति की जाती है। BLO एक सरकारी या अर्ध सरकारी अधिकारी होता है जो चुनाव क्षेत्र से परिचित होता है। अपनी क्षेत्रीय जानकारी का प्रयोग कर वह किसी निश्चित क्षेत्र में चुनाव प्रक्रिया सुचारू करने हेतु चुनाव आयोग की सहायता करता है।

BLO की नियुक्ति प्रेजेंटेशन ऑफ पीपल्स एक्ट 1950 के सेक्शन (B) (2) के अंतर्गत की जाती है। बीएलओ किसी ऐसे व्यक्ति को बनाया जाता है जो या तो सरकारी ढांचे का हिस्सा हो या फिर लोकल क्षेत्र में कार्यरत हो। बीएलओ चुनाव आयोग का जमीनी स्तर पर प्रतिनिधित्व करता है और इस पद पर नियुक्ति की जाने की शुरुआत अगस्त 2006 से की गई थी।

यदि आपकी उम्र 18 साल से अधिक है तो आप वोटर आईडी कार्ड बनवा सकते हैं। आपके क्षेत्र से संबंधित चुनाव की जानकारी व वोटर आईडी कैसे बनवाई जाए इसकी जानकारी के लिए आप बीएलओ से सहायता ले सकते हैं। बूथ लेवल ऑफिसर का यही कार्य होता है कि वह अपने क्षेत्र के सभी मतदाताओं की चुनाव व वोट से सबंधित समस्याओं को हल करे। इसलिए यदि आपको वोटर कार्ड या चुनाव से संबंधित कोई जानकारी चाहिए तो आप अपने क्षेत्र के बीएलओ से संपर्क कर सकते हैं।

Sponsored Links

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें