Sponsored Links

ओडिशा की जनसंख्या कितनी है?

वर्ष 2011 में हुई जनगणना के आंकड़ों के अनुसार बंगाल की खाड़ी के साथ 485 किलोमीटर लंबी तटरेखा बनाने वाले ओडिशा राज्य की जनसंख्या चार करोड़, उन्नीस लाख, चौहत्तर हजार, दो सौ अठारह (4,19,74,218) है। इस जनसंख्या में 2.12 करोड़ पुरुष व 2.07 करोड़ महिलाएं शामिल हैं। जनसंख्या की दृष्टि से ओडिशा भारत का ग्यारहवां सबसे बड़ा राज्य है। वर्ष 2001 से 2011 तक ओडिशा की जनसंख्या 14% की दर से बढ़ी है। वहीं यदि लिंगानुपात की बात की जाए तो ओडिशा में मौजूदा लिंगानुपात 979 है अर्थात ओडिशा में प्रति 1000 पुरुषों के लिए 979 महिलाएं हैं। वहीं यदि शिशु लिंगानुपात को देखा जाए तो यह 941 है जो दर्शाता है कि ओडिशा में समय के साथ लिंगानुपात बढ़ रहा है जो कि एक चिंता का विषय है।

ओडिशा की जनसंख्या का कुल 73% हिस्सा पढा लिखा है जिसमें पुरुषों की संख्या अधिक है। ओडिशा में कुल 1.50 करोड़ पुरुष पढ़े लिखे हैं जो ओडिशा की कुल पुरुष जनसंख्या का 81.5 फीसदी हैं। वहीं ओडिशा में कुल 1.16 करोड़ महिलाएं पढ़ी लिखी हैं जो ओडिशा की कुल महिला जनसंख्या का 64 फीसदी हैं। आंकड़ों के अनुसार ओडिशा में पुरुष व महिलाओं की शिक्षा में असमानता दिखाई देती है। यदि ओडिशा के कुल पढ़े लिखे लोगों की संख्या की बात की जाए तो ओडिशा में कुल 2 करोड़ 67 पढ़े लिखे हैं।

ओडिशा की कुल जनसंख्या का 83 फीसदी हिस्सा गांवों में निवास करता है। ओडिशा की 4.19 करोड़ की आबादी में से 3.49 करोड़ लोग गांव में रहते हैं वहीं शहरों में केवल 70 लाख लोग निवास करते हैं। शहरों में रहने वाले लोगों की कुल आबादी ओडिशा की कुल जनसंख्या का लगभग 17% है। इसलिए ओडिशा को ग्रामीण प्रभावी राज्य कहा जा सकता है।

भारत के अधिकतर राज्यों में हिन्दू व मुस्लिम धर्म के लोग सर्वाधिक हैं लेकिन ओडिशा राज्य में हिन्दू धर्म के बाद सबसे बड़ा धर्म ईसाई धर्म है। ओडिशा की जनसंख्या का 93.63 फीसदी हिस्सा हिन्दू धर्म को मानता हैं वहीं ईसाई धर्म को मानने वालों की संख्या 2.77% है और ओडिशा की आबादी का 2.17% हिस्सा मुस्लिम धर्म को मानता है। बाकी के सभी धर्म यहां की बची हुई 2% आबादी में सिमटे हुए हैं।

Sponsored Links

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें