Sponsored Links

CBSE Full Form in Hindi | सी बी एस ई का पूरा नाम क्या है?

भारत में जितने भी विद्यालय है उन्हें सुव्यवस्थित तरीके से चलाने के लिए व पूरे भारत में एक समान शिक्षा का प्रसार करने के लिए भारत सरकार द्वारा बहुत सी संस्थाएं बनाई गई है इनमें से एक मुख्य संस्था जो माध्यमिक स्तर पर विद्यालयों में शिक्षा को सुचारू रूप से चलाती है वह है CBSE आज हम सीबीएससी की फुल फॉर्म जानने के साथ ही जानेंगे इससे जुड़ी वो सभी जानकारियां जो सामान्य ज्ञान की दृष्टि से हमें पता होनी चाहिए।

CBSE की फुल फॉर्म होती है Central Board of Secondary Education इसे हिंदी में "सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन" लिखा जाता है और इसका हिंदी में अर्थ होता है "केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड" CBSE से जुड़ी आगे की जानकारी निम्न है।

CBSE की स्थापना आज से लगभग 6 दशक पहले 03 नवंबर 1962 को हुई थी अपनी स्थापना के बाद से ही इसने अपने अंतर्गत भारत के स्कूलों को मान्यता देनी शुरू कर दी। आज भारत के वे सभी स्कूल जो भारत सरकार द्वारा मान्य घोषित हैं फिर चाहे वे सरकारी स्कूल हो या निजी, CBSE द्वारा मान्यता प्राप्त कर सकते हैं। मान्यता प्राप्त होने के पश्चात उन स्कूलों में होने वाली बोर्ड की परीक्षाओं की देख रेख CBSE द्वारा की जाती है। CBSE से मान्यता प्राप्त स्कूलों में मुख्य रूप से दसवीं व बारहवीं कक्षा के लिए ही बोर्ड की परीक्षाएं आयोजित की जाती हैं। इसके बाद आगे इंजीनियरिंग के कॉलेजों में प्रवेश लेने के लिए आरंभिक परीक्षाओं में CBSE का समावेश रहता है।

CBSE भारत सरकार के मानव संसाधन विकास मंत्रालय के अंतर्गत आता है तथा स्कूली स्तर पर यह केवल NCERT (द नेशनल कौंसिल ऑफ एजुकेशन रिसर्च एंड ट्रेनिंग) पाठ्यक्रम को ही लागू करता है। यदि कोई स्कूल CBSE से मान्यता प्राप्त करता है तो उसे NCERT पाठ्यक्रम के अंतर्गत ही बच्चों को पढ़ाना होता है। इसलिए NCERT पाठ्यक्रम पढ़ाने योग्य स्कूल का स्टाफ व अन्य आधारभूत सुविधाएं देने की जिम्मेदारी स्कूल की होती है। हालांकि इसके लिए सरकार द्वारा समय-समय पर सहायता भी मुहैय्या करवाई जाती है। पूरे देश में CBSE अपना संचालन दिल्ली से करती है तथा इसका मुख्यालय दिल्ली में स्थित है।

Sponsored Links

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें