Sponsored Links

पर्यावरण सरंक्षण में भारतीय न्यायपालिका की क्या भूमिका है?


* पर्यावरण : वे सभी अवस्थाएं जिनसे हम घिरे हैं पौधों पशुओं और प्राकृतिक संसाधनों व रहने की परिस्थियों से मिलकर पर्यावरण का निर्माण होता है

* स्वच्छ पर्यावरण मानव जीवन के लिए अनिवार्य, इसलिए मानव विकास व सुरक्षा के लिए उत्तरदायी संस्थाएं पर्यावरण को लेकर भी उत्तरदायी हैं।

* आज पर्यावरण सरंक्षण देश ही नही वैश्विक स्तर पर प्रमुख कर्तव्य, पर्यावरण क्षय एक अंतराष्ट्रीय समस्या

* पर्यावरण की समस्या से निपटने के लिए भारतीय न्यायपालिका महत्वपूर्ण कार्य कर रही है यह अपना स्वरूप व दृष्टिकोण रूढ़िवादी से प्रगतिशील में परिवर्तित कर रही है।

* न्यायपालिका व्यक्तिगत हितों के सरंक्षक के साथ-साथ सामाजिक व पर्यावरण हित के सरंक्षक के रूप में सक्रिय भूमिका का निर्वाह करती रही है।

* भारतीय संविधान के चौथे अध्याय में मौलिक कर्तव्यों के अंतर्गत प्राकृतिक पर्यावरण की रक्षा व संवर्द्धन के विषय में उपबंध हैं।

* न्यायालय जनहित याचिका के माध्यम से भी पर्यावरण संरक्षण में सकारात्मक भूमिका निभा रहा है जिससे पर्यावरण सुरक्षा के संबंध में उल्लेखनीय सुधार हुआ है।

* न्यायपालिका ने न्यायिक सक्रियता के माध्यम से पर्यावरण संरक्षण में महत्वपूर्ण योगदान दिया है विभिन्न पर्यावरण आंदोलन व दिल्ली में स्वच्छ पर्यावरण बनाने के लिए CNG बसों का परिचालन इसका प्रत्यक्ष उदाहरण है।
Sponsored Links

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें