Sponsored Links

झारखंड राज्य कब बना

वर्ष 2000 से पूर्व बिहार तथा झारखंड एक ही राज्य थे। परंतु 15 नवंबर 2000 को झारखंड बिहार से अलग होकर एक नए राज्य के रूप में अस्तित्व में आया। प्राचीन बिहार के कुल क्षेत्रफल का 46% दक्षिणी हिस्सा आज झारखंड के नाम से जाना जाता है। आदिवासी बहुल राज्य झारखंड में आज भी 76% जनसँख्या ग्रामीण क्षेत्रों में निवास करती है।

भारत के 28 वें राज्य के रूप में अस्तित्व में आए झारखंड की स्थापना के लिए 15 नवंबर की तारीख चुने जाने का कारण; झारखंड के लोगों द्वारा ईश्वर माने जाने वाले बिरसा मुंडा का जन्मदिन है। 15 नवंबर 1875 को जन्में बिरसा मुंडा आदिवासी इलाकों में अंग्रेजों के खिलाफ विद्रोह की ज्वाला जलाने वाले प्रमुख नेता के रूप में जाने जाते हैं।

बिहार के दक्षिणी राज्यों को अलग कर झारखंड राज्य बनाने का विचार इसके बनने से लगभग सौ वर्ष पूर्व भारत के हॉकी खिलाड़ी रहे जयपाल मुंडा ने रखा था। जिन्होंने बाद में झारखंड राज्य बनने से पूर्व ही झारखंड पार्टी का सृजन किया था जो बिहार के दक्षिण हिस्से में बहुत प्रभावशाली रही थी।
Sponsored Links

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें