Sponsored Links

प्लासी का युद्ध कब हुआ था

प्लासी पश्चिम बंगाल में स्थित एक स्थान है वर्तमान में यह नदिया जिले का एक कस्बा है। प्लासी यहाँ हुए युद्ध के लिए विश्वप्रसिद्ध है। प्लासी का युद्ध 23 जून 1757 को हुआ था। 1857 की क्रांति से 100 वर्ष पूर्व हुआ यह युद्ध इतिहास में बहुत महत्व रखता है क्योंकि इस युद्ध में अंग्रेजों की जीत ने भारत को आने वाले 200 वर्ष तक गुलामी की जंजीरों में बांध दिया था। प्लासी के युद्ध के साथ ही भारत की दासता की कहानी आरंभ हुई। यह युद्ध अंग्रेजों तथा बंगाल के नवाब सिराजुद्दौला के बीच लड़ा गया था। वर्ष 1757 में प्लासी को एक गांव के रूप में जाना जाता था गंगा किनारे बसे इस गांव में अंग्रेजों तथा सिराजुद्दौला की सेना का आमना सामना हुआ। हालाँकि बिना युद्ध लड़े ही अंग्रेजों की ओर से लड़ रहे रोबर्ट क्लाईव की जीत तय थी परन्तु नाम मात्र के इस युद्ध में सिराजुद्दौला का मित्र मीरमदान मारा गया था। मीर जाफर के अंग्रेजों के साथ मिले होने के कारण यह युद्ध पहले ही अंग्रेजों के पक्ष में चला गया था। इतिहासकार इस युद्ध को एक मामूली सैन्य झड़प का नाम देते हैं परन्तु वे मानते हैं कि बाद में इस युद्ध के जो परिणाम हुए वे दूरगामी थे। क्योंकि प्लासी के इस युद्ध ने अंग्रेजों के हौंसले व उनकी बंगाल पर मजबूत पकड़ बना दी थी। साथ ही उन्हें भारतीय राजाओं के आपसी बिगड़े सबंधो की भी जानकारी हो गई। अंग्रेजों की उस समय की इस मामूली जीत का असर हम आज वर्तमान तक देख सकते हैं क्योंकि अंग्रेजों की जीत का सफर जो 1757 में शुरू हुआ भारत को उससे छुटकारा पाने में 200 साल का समय लग गया। गुलामी से त्रस्त भारत आज तक भी उभर नही पाया है। हालाँकि यह कहना गलत नही होगा कि अंग्रेजों के इस राज ने देश से राजाओं का वर्चस्व समाप्त करने में अहम योगदान दिया जिससे आज भारत दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र बन सका। प्लासी के युद्ध के बाद अंग्रेजों ने मीरजाफर जिसने सुराजुद्दौला को धोखा दिया था को बंगाल का नवाब बना दिया तथा अपने इशारों पर नचाने लगे। तीन वर्ष बाद कठपुतली बने मीर जाफर को हटा कर अंग्रेजों ने मीर कासिम जो कि मीर जाफर का दामाद था को नवाब बनाया। माना जाता है कि मीर कासिम ने अपने क्रियाकलापों से नवाब की कुर्सी हासिल की थी। मीर कासिम और अंग्रेजों के बीच संधि के चलते अंग्रेज व्यापार की आड़ में बंगाल में अपनी जड़ें मजबूत करते रहे तथा धीरे धीरे पूरे बंगाल को गुलाम बना लिया। प्लासी के युद्ध से सबंधित अन्य सामान्य ज्ञान प्रश्न निम्न हैं:

1). प्लासी के युद्ध के तीन वर्ष बाद क्षेत्रीय षड्यंत्र से बचने के लिए मीर कासिम ने अपनी राजधानी कहाँ स्थानांतरित की?
मुंगेर में।

2). प्लासी के युद्ध के पश्चात बंगाल नवाब के दरबार में अंग्रेजी रेजिडेंट किसे नियुक्त किया गया?
ल्यूक स्क्राफट्रन को।
Sponsored Links

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें