Sponsored Links

नाथूराम गोडसे को फांसी कब तथा कहाँ दी गई थी?

नाथूराम गोडसे को महात्मा गांधी की हत्या करने के जुर्म में अंबाला जेल में फांसी दी गई थी। गोडसे ने महात्मा गांधी को क्यों मारा यह भारत के सबसे बड़े बहस के मुद्दों में से एक रहा है। इस हत्या के पीछे कभी हिन्दू कट्टरवाद को कारण समझा जाता है तो कभी महात्मा गांधी की अहिंसक नीतियों को।

गोडसे ने महात्मा गांधी की हत्या उस समय की जब 30 जनवरी 1948 के दिन शाम के समय जब वे प्राथना स्थल की तरफ बढ़ रहे थे। उसी समय नाथूराम गोडसे ने सामने से आकर महात्मा गांधी की छाती में तीन गोलियां मारी। घटनास्थल से ही गोडसे को गिरफ्तार कर लिया गया और मुकदमा चलाया गया।

अंतः पंजाब हाईकोर्ट में चले ट्रायल के बाद 15 नवंबर 1949 को अंबाला जेल में नाथूराम गोडसे को फांसी दे दी गई।

इन सामान्य ज्ञान प्रश्नों का उत्तर भी जानें :

महात्मा गांधी से जुड़े सामान्य ज्ञान प्रश्न

मुगलों की राजभाषा क्या थी?

प्रान्त और राज्य में क्या अंतर होता है?

चंपारण आंदोलन कब हुआ था?

बंदरगाहों से जुड़े सामान्य ज्ञान प्रश्न

Sponsored Links

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें